Program on De-Addiction in Manmohinivan Complex

राजस्थान को तंबाकूमुक्त बनाने के लिए राजस्थान सरकार ने बड़ी पहल की है। जिसके तहत पूरे राजस्थान के 33 जिलों से करीब 400 चिकित्सक ब्रह्माकुमारीज़ के मुख्यालय शांतिवन के ग्लोबल ऑडिटोरियम में नशामुक्ति का प्रशिक्षण लिया। इस स्टेट लेवल टोबैको सेसेशन ट्रेनिंग प्रोग्राम का इनॉग्रेशन संस्था की संयुक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी दादी रतनमोहिनी, महसचिव बीके निर्वैर, मेडिकल विंग के कार्यकारी सचिव बीके बनारसीलाल शाह, राजस्थान सरकार के मेडिकल एवं स्वास्थ्य सचिव नवीन जैन, यूनियन साउथ ईस्ट एशिया के उपक्षेत्रीय निदेशक डॉ राना जे सिंह समेत अनेक अधिकारियों व चिकित्साविदों ने दीप जलाकर किया।
देश में करीब 20 करोड़ लोग धूम्रपान की चपेट में है ऐसे में हर आठ सेकेंड में धूम्रपान से एक की मौत हो रही है। वहीं नशे के कारण प्रदेश में हर साल करीब 72 हज़ार मौत होती है। जिसे ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार द्वारा ब्रह्माकुमारीज़ ग्लोबल ऑडिटोरियम में ये ट्रेनिंग रखा गया जिसमें प्रदेश भर के डॉक्टर अपने जिलों में जाकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग देंगे। इस तरह से 400 डॉक्टर्स के माध्यम से यह ट्रेनिंग करीब 50 हजार आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं तक पहुंचेगी। ये सभी ब्रह्माकुमारी संस्था के जिला और तहसील केंद्रों पर कार्यरत सदस्यों के साथ मिलकर इस अभियान को आगे बढ़ाएंगी।
इस अवसर पर नवीन जैन ने कहा कि पिछले पांच सालों में तंबाकू सेवन करने वालों में कमी आयी है परंतु ब्रह्माकुमारीज़ संस्थान के मेडिकल प्रभाग के पास पर्याप्त व्यवस्था है जिससे पूरे राजस्थान के लोगों में जागरूकता लाई जा सकेगी। वहीं बी.के. निर्वैर ने कहा कि इस प्रशिक्षण से निश्चित तौर पर एक सकारात्मक संदेश जाएगा।
वहीं राजस्थान के स्टेट नोडल ऑफिसर डॉ एस एन ढ़ोलपुरिया, अरूणाचल प्रदेश के एनपीओ टोबैको डॉ बिमान नाटुंग समेत कई लोगों ने अपने विचार व्यक्त किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *